सुपौल: बिहार के सुपौल जिले के सदर प्रखंड अंतर्गत हरदी निवासी विद्यासागर ने एक बार फिर अपने सफलता (Supaul Youth Vidyasagar Got 272 Rank In Upsc) का परचम लहराया है. विद्यासागर ने यूपीएससी की परीक्षा में 272वां रैंक लाकर सुपौल ही नहीं बिहार का नाम रोशन किया है. चौथे प्रयास में विद्यासागर को यह सफलता हाथ लगी. इससे पहले भी विद्यासागर ने यूपीएससी में सफलता अर्जित की थी, जिससे वह भारतीय राजस्व सेवा (आईआरएस) का अधिकारी बने हैं. वर्तमान में वह इंडियन रेलवे एकाउंट सर्विस (Indian Railway Account Service) के अधिकारी के रूप में हैदराबाद में कार्यरत हैं.

“छात्रों को सही दिशा में मेहनत करनी चाहिए. इससे उन्हें निश्चित रूप से सफलता मिलेगी. सफलता का कोई विकल्प नहीं है. मेरी सफलता में मेरे माता-पिता, परिजनों और गुरुजनों का योगदान है.”

विद्यासागर, यूपीएससी 272वां रैंक



सुपौल के विद्यासागर<div class=धर्म परिवर्तन कर चुके लोगों को ST आरक्षण की लिस्ट से किया जाएगा बाहर, RSS से जुड़े संगठन की मांग

ने दूसरी बार किया UPSC क्रैक, इस बार 272 वां रैंक मिला" width="300" height="200" />

बीपीएससी में सकेंड रैंकर रहे हैं विद्यासागरः बीपीएससी 64वीं की परीक्षा में पहले ही प्रयास में उन्होंने दूसरा रैंक लाकर जिले व राज्य का नाम रौशन किया था. सेवानिवृत शिक्षक सियाराम यादव के पौत्र और मध्य विद्यालय के शिक्षक हरिनंदन यादव के पुत्र विद्यासागर ने बीपीएससी में सकेंड रैंक लाकर अपने प्रतिभा का लोहा मनवाया था.

सुपौल के अन्य ख़बर के लिए जुड़ें

UPSC 2021 के टॉपरों की सूची…

1- श्रुति शर्मा (बिजनोर, यूपी)
2- अंकिता अग्रवाल (मधेपुरा, बिहार)
3- गामिनी सिंगला (चंडीगढ़, पंजाब)
4- ऐश्वर्य वर्मा (उज्जैन,मध्य प्रदेश)
5- उत्कर्ष द्विवेदी
6- यक्ष चौधरी
7- सम्यक एस जैन
8- इशिता राठी
9- प्रीतम कुमार
10- हरकीरत सिंह रंधावा
11- शुभंकर प्रत्यूष पाठक (मोतिहारी, बिहार)
12- यशार्थ शेखर
13- प्रियंवदा अशोक म्हादलकर
14- अभिनव जे जैन
15- सी यशवंतकुमार रेड्डी
16- अंशु प्रिया (मुंगेर, बिहार)
17- महक जैन
18- रवि सिहाग (श्रीगंगानगर, राजस्थान)
19- दीक्षा जोशी
20- अर्पित चौहान

अपने जिले के टॉपर की सूची देखें: 

 

नवोदय विद्यालय से इंटर तक की पढ़ाईः विद्यासागर की प्रारंभिक शिक्षा पिपरा प्रखंड के रामनगर पंचायत स्थित तुलानाथ पब्लिक स्कूल में हुई है. टीजीपी स्कूल के प्राचार्य श्याम किशोर ठाकुर ने बताया कि विद्यासागर बचपन से ही मेधावी छात्र रहा है. लगनशील और जुझारू छात्र के रूप में वह पहचाना जाता था. इसके बाद उसने नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण की. नवोदय विद्यालय सुपौल से वर्ष 2010 में 10 वीं की परीक्षा पास करने के बाद विद्यासागर ने भागलपुर जवाहर नवोदय विद्यालय से इंटर की परीक्षा की. 12वीं करने के बाद उन्होंने इंजीनियरिंग की परीक्षा उत्तीर्ण की.

एनआईटी इंजीनियरिंग ग्रेजुएटः विद्यासागर ने तामिलनाडु के तिरजी स्थित एनआईटी 2017 में मैकेनिकल इंजीनियर बनने के बाद से यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी थी. दूसरे प्रयास में ही उन्होंने सफलता अर्जित कर अपने पूरे परिवार का नाम रौशन किया था. फिलहाल वह हैदराबाद में रेल सेवा में पोस्टेड हैं. तीन भाई-बहन में बड़े विद्यासागर का छोटा भाई कंप्यूटर साइंस से स्नातक की पढ़ाई कर रहे हैं.

हैदराबाद में पोस्टेड हैं विद्यासागरः विद्यासागर के पिता ने बताया कि वर्तमान में विद्यासागर भारतीय रेल सेवा में कार्यरत हैं. विद्यासागर की मां पावित्री देवी ने बताया कि विद्यासागर बचपन से ही मेधावी छात्र रहा है. पढ़ाई के प्रति उनका लगाव बचपन से ही रहा है. वहीं उनके चाचा रघुनंदन कुमार ने खुशी व्यक्त करते कहा कि विद्यासागर ने अपने मेहनत से उनलोगों का मान बढ़ाया है. विद्यासागर की सफलता से उनके परिजन, ग्रामीण व पूरे जिलावासियों में खुशी का माहौल व्याप्त है.

सुपौल में घूस लेते BDO का वीडियो वायरल, इसमें बोल रही है- ‘CCTV का तार कटा है, चिंता मत कीजिये’, जानिये इस पर उनका क्या है जवाब..?